पाकिस्तान ने अपना पहला Breast Milk Bank किया बंद, जानें कारण

पाकिस्तान ने अपना पहला ब्रेस्ट मिल्क बैंक खुलने के कुछ ही हफ्तों में बंद कर दिया है

कराची स्थित सिंध इंस्टीट्यूट ऑफ चाइल्ड हेल्थ एंड नियोनेटोलॉजी में ब्रेस्ट मिल्क बैंक को खोला गया था

इस ब्रेस्ट मिल्क बैंक को धार्मिक विद्वानों द्वारा विरोध के कारण बंद किया गया है

कई धार्मिक विद्वानों ने मिल्क बैंक को ‘इस्लामी कानून के तहत निषिद्ध’ घोषित किया था और इसके खिलाफ फतवा जारी हुआ था

एसआईसीएचएन में बैंक को यूनिसेफ और पाकिस्तान बाल चिकित्सा एसोसिएशन के साथ साझेदारी में शुरु किया था

ब्रेस्ट मिल्क बैंक के जरिए शिशुओं को माताओं के स्तन का दूध मिल रहा था, जिनकी माताएं पर्याप्त दूध बनाने में सक्षम नहीं थी

स्तनपान कराने वाली महिलाओं द्वारा दान किए गए दूध को एकत्रित, पास्चुरीकृत, भंडारण और वितरित करने के लिए एक समर्पित सुविधा स्थापित की गई थी 

वैज्ञानिकों ने चंद्रमा पर गुफा होने की पुष्टि की

सूर्य के चक्कर नहीं लगाती है धरती, नासा ने किया ऐलान

पाकिस्तान में महंगाई की मार जारी, पेट्रोल डीजल के दाम बढ़े

Webstories.prabhasakshi.com Home