मुश्किल में पड़ी Nayab Singh Saini की सरकार, तीन निर्दलीय विधायकों ने वापस लिया समर्थन

हरियाणा की नायब सैनी सरकार गिरती नजर आ रही है क्योंकि तीन निर्दलीय विधायकों ने सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया है।

इसी साल मार्च में भारतीय जनता पार्टी ने राज्य में अपने कद्दावर नेता मनोहर लाल खट्टर को हटाकर सैनी को मुख्यमंत्री बनाया था।

समर्थन वापस लेने वाले विधायकों ने कांग्रेस को समर्थन देने का एलान भी कर दिया है। इन विधायकों में सोमबीर सांगवान, रणधीर सिंह गोलन और धर्मपाल गोंदर शामिल हैं।

इन विधायकों ने विपक्ष के नेता, भूपिंदर सिंह हुड्डा और राज्य कांग्रेस प्रमुख उदय भान की उपस्थिति में रोहतक में एक संवाददाता सम्मेलन में अपने फैसले की घोषणा की है।

सरकार मुश्किल में पड़ती देख पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर डैमेज कंट्रोल में जुट गए हैं।

खट्टर ने कहा कि यह राजनीतिक लड़ाई लंबी चलेगी, कई लोग हमारे संपर्क में हैं, चाहे वह कांग्रेस के हों या जेजेपी के। उन्हें पहले अपने घर की देखभाल करनी चाहिए।

बीजेपी नेता और हरियाणा के पूर्व मंत्री अनिल विज ने कहा कि हम 3 निर्दलीय विधायकों के कांग्रेस को समर्थन देने से दुखी हैं। लेकिन, हमारे पास ट्रिपल इंजन सरकार है.....

.....पीएम नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री के रूप में देखना चाहते हैं तीसरी बार इंडिया गठबंधन बिना इंजन की गाड़ी है। ये ऐसे ही खड़ा रहेगा। 

लड़कियों में बढ़ रही स्मोकिंग करने की लत

सेहत ही नहीं अर्थव्यवस्था पर भी असर करती है हीटवेव

Varanasi में Prime Minister Modi को कड़ी टक्कर देने के लिए विपक्ष एकजुट

Webstories.prabhasakshi.com Home