NDA की बैठक में जयंत चौधरी को मंच पर नहीं मिली जगह, SP ने उठाया मुद्दा

एनडीए संसदीय बैठक में राष्ट्रीय लोक दल के प्रमुख जयंत चौधरी दो सांसदों के साथ मंच पर नहीं दिखे, तो इससे काफी विवाद हुआ और सोशल मीडिया पर बहस छिड़ गई।

समाजवादी पार्टी ने यह कहते हुए हस्तक्षेप की कि आरएलडी अध्यक्ष मंच से गायब क्यों थे और अन्य सांसदों के बीच क्यों बैठे दिखे।

सपा ने आरोप लगाया कि भाजपा की जाट समुदाय के प्रति नफरत और स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह और चौधरी अजित सिंह के प्रति झूठा सम्मान उजागर हो गया है।

पार्टी ने कहा कि अगर जयंत चौधरी सच में किसान हितैषी नेता हैं तो उन्हें एनडीए से दूरी बना लेनी चाहिए और किसानों के हित में बीजेपी के खिलाफ आवाज उठानी चाहिए।

रालोद ने इसे छोटा मुद्दा बताकर खारिज कर दिया। पार्टी ने लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस और सपा के साथ गठबंधन तोड़ दिया था।

इन सब के बीच सरकार और संसद के सूत्रों ने एक स्पष्टीकरण जारी किया है। उन्होंने कहा, बैठने का एक अलग क्रम था।

सूत्रों ने बताया कि एनडीए के अन्य सभी घटक दल जैसे रालोद के जयंत चौधरी, मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री संसद के केंद्रीय कक्ष में बैठे थे।

लोकसभा चुनाव के दौरान ऐसा रहा है नरेंद्र मोदी के केंद्रीय मंत्रियों का प्रदर्शन

आगामी विधानसभा चुनावों की तैयारी में जुटी BJP, कई राज्यों के बनाए गए प्रभारी

चुनाव के बाद पहली बार वाराणसी पहुँचेंगे PM Modi, किसानों को देंगे बड़ा तोहफा

Webstories.prabhasakshi.com Home