गाँधी परिवार के गढ़ को बचाने में जुटी कांग्रेस, भूपेश बघेल और अशोक गहलोत को दी जिम्मेदारी

गाँधी परिवार के राजनैतिक गढ़ माने जाने वाले अमेठी और रायबरेली में पार्टी ने भूपेश बघेल और अशोक गहलोत को मैदान में उतार दिया है

कांग्रेस ने भूपेश बघेल को रायबरेली और अशोक गहलोत को अमेठी का एआईसीसी वरिष्ठ पर्यवेक्षक नियुक्त किया है

सोनिया गाँधी के सक्रिय राजनीति से हटने के बाद रायबरेली से राहुल गाँधी ने अपना पर्चा दाखिल कर दिया है

तो वहीं बीजेपी ने रायबरेली से काफी मंथन के बाद के बाद उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री दिनेश प्रताप सिंह को अपना उम्मीदवार घोषित किया है

पार्टी ने अमेठी से स्मृति ईरानी के खिलाफ गांधी परिवार के वफादार और पंजाब के मूल निवासी किशोरी लाल शर्मा को चुनावी मैदान में उतारा है......

..... उन्होंने सोनिया गांधी के साथ अमेठी निर्वाचन क्षेत्र के प्रभारी के रूप में काम किया, जहां से उन्होंने 1999 में चुनाव लड़ा था।

इन दोनों सीटों पर चुनाव पांचवें चरण में 20 मई को संपन्न होंगे

Tejashwi Yadav का दावा - BJP की आसन्न हार से डर से गए प्रधानमंत्री Modi

Mirzapur में PM Modi ने की चुनावी रैली, SP को बताया माफियाओं की पार्टी

लड़कियों में बढ़ रही स्मोकिंग करने की लत

Webstories.prabhasakshi.com Home