करहल छोड़ेंगे SP सुप्रीमो Akhilesh Yadav, Modi सरकार को संसद में घेरने की तैयारी

समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव लोकसभा चुनाव में कन्नौज सीट से जीतने के बाद करहल विधानसभा सीट से अपना इस्तीफा सौंपेंगे।

इसका मतलब साफ है कि अखिलेश अब उत्तर प्रदेश की जगह राष्ट्रीय राजनीति में अपनी अहम भूमिका निभाएंगे।

मैनपुरी के पूर्व सांसद और अखिलेश के भतीजे तेज प्रताप यादव करहल विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने की संभावना है।

अपने इस्तीफे के साथ ही सपा सुप्रीमो विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष का पद भी छोड़ देंगे और यह पद कौन संभालेगा इसका फैसला अखिलेश के दिल्ली दौरे के बाद होगा।

लोकसभा नतीजों में समाजवादी पार्टी रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण राज्य उत्तर प्रदेश से 37 सीटें जीतकर पहले स्थान पर रही।

अखिलेश ने जीत के बाद प्रदेश के "समझदार मतदाताओं" की सराहना करते हुए सफलता का श्रेय पीडीए की रणनीति और गठबंधन....

.... गरिमापूर्ण जीवन और आरक्षण का अधिकार देने वाले संविधान को बचाने के लिए ऊंची जातियों में पिछड़ों ने कंधे से कंधा मिलाकर लड़ाई लड़ी है।

लोकसभा चुनाव के दौरान ऐसा रहा है नरेंद्र मोदी के केंद्रीय मंत्रियों का प्रदर्शन

आगामी विधानसभा चुनावों की तैयारी में जुटी BJP, कई राज्यों के बनाए गए प्रभारी

चुनाव के बाद पहली बार वाराणसी पहुँचेंगे PM Modi, किसानों को देंगे बड़ा तोहफा

Webstories.prabhasakshi.com Home