टिकट वितरण और PDA के नारे के साथ UP में परचम लहराने को तैयार Akhilesh

लोकसभा चुनाव के शुरुआती रुझानों में उप्र में समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के गठबंधन ने बीजेपी को बड़ा झटका दिया है। समाजवादी पार्टी 33 सीटों पर आगे है।

उत्तर प्रदेश में जहां भाजपा 70 से ज्यादा सीटों पर जीत का लक्ष्य लेकर चल रही थी लेकिन पार्टी ने अब तक सिर्फ 36 सीटों पर बढ़त बना रखी है।

समाजवादी पार्टी और कांग्रेस ने तमाम आनाकानी के बाद यूपी में गठबंधन किया। उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव ने अपने सामाजिक समीकरणों पर जोर दिया।

उन्होंने टिकट बंटवारे में चालाकी दिखाई। अपने कैडर का आत्मविश्वास बनाए रखा। साथ ही साथ कांग्रेस के साथ भी वह पूरी तरीके से एकजुटता के साथ खड़े रहे।

दूसरी ओर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने भी अखिलेश यादव का पूरा साथ दिया। इसके अलावा बहुत ही समाज पार्टी और मायावती के वोट परसेंटेज में जबरदस्त गिरावट हुआ है।

अखिलेश यादव का PDA का फार्मूला हिट होता दिखाई दे रहा है जिसमें पिछड़े, दलित और अल्पसंख्यकों की बात की गई थी।

कांग्रेस और अखिलेश यादव के गठबंधन ने उत्तर प्रदेश में धर्म को हावी होने नहीं दिया। उत्तर प्रदेश में जाति के इर्द-गिर्द ही तानेबने बने।

लोकसभा चुनाव के दौरान ऐसा रहा है नरेंद्र मोदी के केंद्रीय मंत्रियों का प्रदर्शन

आगामी विधानसभा चुनावों की तैयारी में जुटी BJP, कई राज्यों के बनाए गए प्रभारी

चुनाव के बाद पहली बार वाराणसी पहुँचेंगे PM Modi, किसानों को देंगे बड़ा तोहफा

Webstories.prabhasakshi.com Home